अज्ञानी आमिर को टीचर की जरूरत

सहिष्णुता के मुद्दे पर रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के आमिर खान पर बयान को बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी का साथ मिला है। स्वामी ने ट्वीट किया, ‘आमिर को लेकर दिए गए पर्रिकर के बयान पर इतना हू हा क्यों मचा है? अगर आमिर खान को अपनी जन्मभूमि से प्यार करना नहीं आता है तो निश्चित तौर पर उनको एक टीचर की जरूरत है।’

इधर विपक्षी दल पर्रिकर पर इस मुद्दे को लेकर हमलावर हैं। एनसीपी नेता माजिद मेनन ने कहा, ‘इस मुद्दे को फिर से उठाने की कोई वजह नहीं है। पर्रिकर आमिर को देशद्रोही नहीं कह सकते क्योंकि उन्होंने भारत को नहीं बल्कि सरकार की आलोचना की थी जो सही तरीके से शासन चलाने में नाकाम रही थी।’

ज्ञात हो एक पुस्तक विमोचन के कार्यक्रम में, पर्रिकर का निशाना आमिर के उस बयान पर था जिसमें उन्होंने देश छोड़ने की बात कही थी। पर्रिकर ने उस बयान को ‘अहंकारी’ बताया। आमिर का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा, ‘एक अभिनेता ने कहा कि उसकी पत्नी भारत से बाहर रहना चाहती है। वह एक अहंकारी बयान था। अगर मैं गरीब हूं और मेरा घर छोटा है तो भी मैं अपने उस छोटे घर को प्यार करूंगा और हमेशा एक बंगला बनाने का सपना रखूंगा।’

loading...